Savitribai Jyotirao Phule Fellowship (SJSGC) के तहत सभी लडकियों को मिल रहा है,पढने के लिए हर महीने 31000 रुपये जाने कैसे?

Ankit Bhardwaj
6 Min Read

Savitribai Jyotirao Phule Fellowship के तहत सभी लडकियों को मिल रहा है,पढने के लिए हर महीने 31000 रुपये जाने कैसे?

सावित्रीबाई ज्योतिराव फुले फ़ेलोशिप (SJSGC)Savitribai Jyotirao Phule Fellowship for Single Girl Child.

Savitribai Jyotirao Phule Fellowship for Single Girl Child-क्या है इसको जानेंगे विस्तार से |

एकल बालिका के लिएSavitribai Jyotirao Phule Fellowship (एसजेएसजीसी) विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी), उच्च शिक्षा विभाग द्वारा पीएचडी की उपाधि के लिए शोध कार्य को आगे बढ़ाने के लिए एक फ़ेलोशिप योजना है।

जिस किसी भी परिवार में जिसमे केवल एक लड़की हो जिसका कोई भाई या बहन न  हो उसके लिए यह योजना बनाई गयी है,परिवार में जो की मात्र अकेली हो लड़की इसके लिए यह योजना वह इसके लिए आवेदन कर सकती है,जो कोई भी लड़की आगे की पढाई करनी चाहती है,और वह आर्थिक रूप से सक्षम नहीं उसके लिए यह योजना बखूबी काम करती है|इसके माध्यम से वह फेल्लोशिप पा सकती और आगे की पढाई जरी रख सकती है|इसका मुख्य उद्देश्य जो भी छात्राए शोध कार्य में आगे जाना छाती है और पीएचडी करना चाहती है,उनके लिए यह वरदान साबित होता है|

वे सभी छात्राए इस फेलोशिप के माध्यम से अपनी पढाई जारी रख सकती है|

Savitribai Jyotirao Phule Fellowship (SJSGC) के तहत सभी लडकियों को मिल रहा है,पढने के लिए हर महीने 31000 रुपये जाने कैसे?

योजना के उद्देश्य –

1. सामाजिक विज्ञान में एकल बालिकाओं की उच्च शिक्षा का समर्थन करना,यानि जिस परिवार में बस एक लड़की हो|
2. छोटे परिवार के आदर्श के पालन के मूल्य को पहचाननाइसका मुख्य उदेश्य है|
iii. समाज में एकल बालिकाओं के आदर्श को पहचानना।
iv. एकल बालिका आदर्श की अवधारणा का प्रचार करना।
समाज में अकेली लड़कियों को बढ़ावा देना।

क्या है,इसके फायदे?

यह फेलोशिप 5 वर्ष के लिए है,जब छात्र कालेज में दाखिला लेती है,और इसके लिए आवेदन देती उस तारीख से इसको मना जायेगा|फ़ेलोशिप पीएचडी जमा करने की तिथि तक प्रदान की जाएगी। थीसिस या 5 वर्ष का कार्यकाल, जो भी पहले हो। पांच साल की कुल अवधि से अधिक कोई विस्तार स्वीकार्य नहीं है, और नियत तारीख की समाप्ति के तुरंत बाद फेलो यूजीसी रिसर्च फेलो नहीं रह जाता है।

इसके तहत छात्राओ को हर महीने फेलोशिप दी जाएगी कुछ इस प्रकार से-

Fellowship(अध्येतावृत्ति):-

जेआरएफ(JRF )@ ₹ 31,000/- प्रति माह प्रारंभिक दो वर्षों के लिए (अनुसंधान कार्य की संतोषजनक प्रगति के अधीन)
एसआरएफ(SRF )@ ₹ 35,000/- प्रति माह शेष कार्यकाल के लिए (अनुसंधान कार्य की संतोषजनक प्रगति के अधीन)

Contingency(आकस्मिकता)-

मानविकी और सामाजिक विज्ञान के लिए: @ ₹ 10,000/- प्रति वर्ष। शुरुआती दो वर्षों के लिए, @ ₹ 20,500/- प्रति वर्ष। शेष कार्यकाल के लिए.
विज्ञान, इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी के लिए @ ₹ 12,000/- प्रति वर्ष। शुरुआती दो वर्षों के लिए, @ ₹ 25,000/- प्रति वर्ष। शेष कार्यकाल के लिए.

एस्कॉर्ट रीडर सहायता:
@ ₹ 3,000/- प्रति माह ‘दिव्यांग’ विद्वानों के मामले में।

नोट-कार्यकाल के अंत/अध्येतावृत्ति(Fellowship) की समाप्ति/विद्वान के इस्तीफे पर, आकस्मिक अनुदान से खरीदी गई किताबें, पत्रिकाएं और उपकरण संबंधित संस्थान की संपत्ति बन जाएंगे।

 

Eligibility Critaria

i) अपने माता-पिता की कोई अकेली लड़की पीएच.डी. कर रही है। मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों/कॉलेजों/संस्थानों में किसी भी स्ट्रीम/विषय में स्नातक उम्मीदवार इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए पात्र हैं।

(ii) यह योजना ऐसी एकल बालिका के लिए लागू है जिसने नियमित, पूर्णकालिक पीएचडी कार्यक्रम में अपना पंजीकरण कराया है।

(iii) पीएच.डी. में प्रवेश। अंशकालिक/दूरस्थ मोड में पाठ्यक्रम योजना के अंतर्गत शामिल नहीं है। यदि शोध मुक्त/अंशकालिक दूरस्थ शिक्षा मोड या अंशकालिक मोड के माध्यम से किया गया है तो कोई विद्वान फ़ेलोशिप के लिए पात्र नहीं है।

(iv) ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि तक सामान्य वर्ग के लिए 40 वर्ष और आरक्षित श्रेणियों यानी एससी/एसटी/ओबीसी और पीडब्ल्यूडी (विकलांग व्यक्ति) के लिए 45 वर्ष की आयु तक की छात्राएं पात्र हैं।

(v) फेलोशिप प्राप्त करने वाले विद्वान और संबंधित संस्थान, जहां विद्वान अपनी पीएचडी कर रहा है, दोनों यह सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार हैं कि इन योजनाओं के नियमों और शर्तों का ठीक से पालन किया जाता है और केवल योग्य उम्मीदवारों को ही फेलोशिप मिलती है।

ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे-

वर्ष में एक बार प्रमुख समाचार पत्रों और रोजगार समाचारों में विज्ञापन के माध्यम से ऑनलाइन माध्यम से आवेदन आमंत्रित किये जाते हैं। संक्षिप्त अधिसूचना यूजीसी की वेबसाइट यानी www.ugc.ac.in पर भी अपलोड की गई है|

Documents Required for application process-

1.आपके पासपोर्ट आकार के फोटोग्राफ और हस्ताक्षर की स्कैन की गई कॉपी (आकार 1 एमबी तक, प्रारूप: जेपीजी)। संपूर्ण शोध प्रस्ताव (आकार 5 एमबी तक) और एक सार (आकार 1 एमबी तक)

2.आवेदन पत्र भरने के बाद, एक स्वतः उत्पन्न फॉर्म आएगा आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित किया जाएगा. कृपया इसका प्रिंटआउट लें, इसे एचओडी/रजिस्ट्रार द्वारा हस्ताक्षरित करें और आवेदन पत्र जमा करने से पहले इसे अपलोड करें।

2.माता-पिता से एकल लड़की होने का प्रमाण रुपये के शपथ पत्र पर जमा करना होगा। निर्धारित प्रोफार्मा के अनुसार एसडीएम/प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट/तहसीलदार द्वारा सत्यापित 100/- स्टांप पेपर। यदि माता-पिता जीवित नहीं हैं, तो शपथ पत्र उम्मीदवार के अभिभावक द्वारा प्रस्तुत किया जा सकता है (आकार: 1 एमबी से कम)

Delhi Mahila Samman Yojna 2024: हर महिला को मिलेगा 1000 रुपये हर महीने कैसे करे आवेदन?

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *